हिंदी में ब्लॉग क्यो बनायें? हिंदी ब्लॉग का भविष्य कैसा होंगा?

By author image icon आशुतोष कुमार

दिनांक : November 29, 2021

 

हिन्दी में ब्लॉग क्यों बनाये। Future ऑफ हिंदी

नमस्कार दोस्तो, आज के इस पोस्ट में मैं आपको बताऊँगा की हिंदी ब्लॉग क्यों बनाये? और आगे हिंदी ब्लॉग की भविष्य कैसे होंगी? इन सारी चीजों को इस पोस्ट के अंदर पुरी जानकारी तथ्यों के साथ देने वाला हूँ।

हिंदी ब्लॉग क्यो बनायें?


अगर आप ब्लॉगिंग में रुचि रखते हैं। तो यह पोस्ट आपके लिए और अधिक मायने रखती है। समान्यतः नये ब्लॉगर इंग्लिश भाषा मे ब्लॉग बनने की बारे में सोचता है। क्योंकि अंग्रेजी एक अंतरराष्ट्रीय भाषा है। तो हम सोचते है कि हमारा ब्लॉग जल्दी रैंक करेंगा। क्योंकि इंग्लिश लैंग्वेज में पुरी दुनिया से  Query/Search  किये जाते है।

अगर आप भारतीय है। हिंदी हमारी मातृभाषा है जिससे हम किसी चीज या टॉपिक पर अच्छा लिख या बोल सकते । तो आपके मन मे कशमकश की स्थिति होती है। कि ब्लॉगिंग के लिए कौन सी भाषा चुनें।

अंग्रेजी या हिन्दी

हिंदी को चुनना चुनना अतिउत्तम उत्तम होंगा।
कोई भी ब्लॉग बनाते है तो आशा करते है की कोई visitor हमारे पोस्ट को पढे। ताकि हमारे लिखने की सार्थकता पूरी हो। तो सवाल आता है कि google पर हिंदी भाषा मे search किये जाते है या नही। अगर किये जाते है तो कितनी संख्या में।

हिंदी में सर्च गूगल पर 6 साल पहले

अगर मैं आज से 5 साले पहले की बात करू तो गूगल पर हिंदी के बहुत ही कम content/article होते थे। लेकिन  आज  हिंदी में प्रतिदिन लाखों सर्च किये जाते है। और हिंदी ब्लॉग की संख्या भी आज काफी है। ब्लॉग पर प्रतिदिन हजारों की संख्या में विजिटर आते है।

Google promoting reginal languge


जी हाँ, दोस्तो गूगल reginal languge में सर्च करने के promot करता रहता है। हमारा हिंदी भी एक स्थानीय भाषा है। जो कि मुख्य रूप से Bharat में बोले जाती है । साथ ही कुछ, पड़ोसी देश मे भी हिंदी को यूज़ किया जाता है। हिंदी भाषा दुनियाँ में सबसे ज्यादा बोलने वाले भाषाओं में तीसरे स्थान पर हैं। लेकिन अब हिंदी भाषा की प्रसार बहुत हुआ है और यह दूसरी स्थान पर आने वाली है।

गूगल optimize Search Engine फ़ॉर हिंदी सर्च

गूगल ने हिंदी सर्च को देखते हुए, सर्च इंजन को हिंदी के ऑप्टिमाइजेशन की हैं ताकि हिंदी कंटेंट पढ़ने वालों को अच्छी और बेहतर content मिल सके । क्योंकि 4-5 साल पहले की बात करें तो हिंदी के सर्च के साथ इंग्लिश कंटेंट भी दिखता था। पर अब इंजन पहले से ज्यादा स्मार्ट हो गया।

Voice सर्च से हिंदी भाषा का विस्तार

अपने देखा होंगा की गूगल सर्च और यूट्यूब पर voice सर्च के विकल्प मिलते है। जिससे आप बोलकर, सर्च इंजन पर कंटेंट पढ़ सकते हैं और यूट्यूब पर अपना मनपसंद वीडियो देख सकते हैं। voice खोज के कारण, अब स्थानीय एवम ग्रामीण (Rural) क्षेत्र से भी  local भाषा में सेअर्च की संख्या बढ़ी है। 

आगे हिंदी ब्लॉग का भविष्य कैसे होंगा?

आगे भी हिंदी भाषा की ब्लॉग की भविष्य अच्छा और आज से कई बेहतरीन होंगी। क्योंकि जैसे कि मैंने उपरोक्त बातों में बताया है कि हिंदी भाषा कैसे उपयोगिता लगातार बढ़ रही हैं। 


  1. 10 में से 9 यूजर भारत मे local language में सेर्च करता हैं।
  2. फ़ूड से सम्बंधित खोजें में 240% बढ़ोतरी हुई है। 
  3. सालों साल गूगल के वौइस् सेर्च में 270% बढ़ोतरी होता जा रहा हैं। voice search से स्थानीय भाषा में सेअर्च बड़ी हैं।



No comments:

आप कैसे हों?