2022 में Blogger Post को SEO Friendly कैसे बनायें या लिखें?

By author image icon आशुतोष कुमार

दिनांक : नवंबर 21, 2020
blogger me post ko seo friendly Kaise likhen

Blogger पोस्ट को seo friendly कैसे लिखेेंं।

क्या आप भी 2022 में ब्लॉगर के ब्लॉग पोस्ट को SEO (Search Engine Optimization) Friendly कैसे बनाए एवम् लिखें? क्या आपके के अंदर भी इस विषय के बारे में जानने की उत्सुकता है? अगर हा । तो ... इस पोस्ट को पढ़िए की किस प्रकार से आप एक अच्छा पोस्ट लिख सकते है? मैन आपको पुरी इस लेख में पॉइंट to पॉइंट बातें बताया है। जससे इम्प्लीमेंट कर एक अच्छी और Rankable पोस्ट लिखने में मदद करेंगा।

आपको इस खास पोस्ट में जानेंगे कि की आप 2022 में किस-किस प्रकार से अपने Blog's Post को जायदा SEO Friendly बना सकते है।

SEO का अर्थ क्या होता है?

मुख्यत येे सवाल New Blogger के मन में आते होंगे। 
SEO हिंदी में पुरा नाम है खोज मशीन अनुकूलन

SEO - search engine optimization

गूगल एक Search Engine हैं। Google, ब्लॉग पर पोस्ट लिखने के लिए कुछ नियम निर्धारित किए है।  अगर आप उसके अंदर रहकर दी हुई बातों को अनुसरण करेंगे। तो आपकी ब्लॉग को Google अपने search engine में अच्छे रैंक देगा। 

2021 ब्लॉग के पोस्ट को SEO friendly बनाने के नियम बातों पर ध्यान देना जरूरी है।

#1. Post Title

किसी भी पोस्ट का शीर्षक (Title) बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। Title जितना आकर्षक और meaningful होंगा। उतना ही जायदा traffic सर्च इंजन रिजल्ट पेज (SERP) से पा सकते है।

ब्लॉग पोस्ट के title में main keyword का उपयोग करें। keywords को 60 charcter के अंदर ही रखे। search engine पोस्ट title के लगभग 60 charchter तक दिखता है। अगर इससे जायदा character को google सर्च cut off कर देता है।

गूगल के SERP में टाइटल, नीचे के इमेज में देख सकते है `1`।

#2. Search Description

अपने ब्लॉग के पोस्ट के लिए एक अच्छा सा खोज विवरण (Search Description) जरूर सोचे। 

Search Description क्या होता है? :- Search Description एक विवरण होता हैै जो search engine result page में title के 

टिक  नीचे देखता है। और एक अच्छा सर्च डिस्क्रिप्शन हमेशा यूजर को क्लिक करने के लिए प्रेरित करता हैं।

नीचे के फ़ोटो में 2, ब्लॉग पोस्ट के search डिस्क्रिप्शन है। और पहला - आप जानते है?

ब्लॉगर search discription और title


3. Keywords

तीसरी बात है कि keywords का इस्तेमाल करें। अपने ब्लॉग के title और आर्टिकल में keyword का सही से उपयोग करे। title मे तो आपको कीवर्ड का उपयोग करना है। साथ में जब आप आर्टिकल के शुरूआत में मुख्य कीवर्ड जिस पर आप अपना पोस्ट को rank करवाना चाहते है, उन कीवर्ड को Bold अक्षरों मेंं कर दे। ये

permlink यूआरएल क्या होती है? :- permlink आपके आर्टिकल अथवा पेज का यूआरएल पता होते है जैसे:- आपके ब्लॉग का मुख्य पेज - होमपेज का यूआरएल होता है।

ब्लॉगर के पोस्ट editor के Setting के अंदर आपको "Permlink" की सेटिंग मिलेंगी।

अपने ब्लॉग article url / Permalink में टारगेट / फोकस कीवर्ड को अवश्य डाले।

#5. Heading Tags

आप अपने ब्लॉग की पोस्ट में HTML Heading Tag इस्तेमाल अवश्य करें। HTML tags आपके पोस्ट को google सर्च इंजन में अच्छी रैंकिंग provide करवाता है। अतः SEO के दृष्टि कोण आप इसे महत्वपर्ण ही समझे।

इन हेडिंग टैग को क्रमशः इस रूप में कर सकते है?

  • H2 - पोस्ट के अंदर Main Heading के रूप में उपयोग करें।
  • H3 - पोस्ट के अंदर Sub Heading के रूप में उपयोग करें।
  • H4 - पोस्ट के अंदर Minor Heading के रूप में उपयोग करें।
  • H5, H6 - अगर आप चाहें तो इन Heading का भी उपयोग अपने पोस्ट में कर सकते है। लिकेन उपर दो से तीन Heading tag (H2 - H4) तो अवश्य उपयोग करने की कोशिश करें।

#6. Keywords

किसी भी पोस्ट में Keywords सही इस्तेमाल आपके ब्लॉग को जल्दी रैंक करने में मदद कर सकता है।
Title - पोस्ट के title में Perfect Keyword होनी चाहिए।
Post - पोस्ट के अंदर पोस्ट के टाइटल के कीवर्ड्स के अनुसार Short और Long Tail कीवर्ड्स का उपयोग करें।


याद रखें - पोस्ट के ज्यादा यत्र-तत्र कीवर्ड्स का उपयोग ना करे। जहाँ कीवर्ड्स की आवश्यकता पड़े वही पर इस्तेमाल करने की कोशिश करें। नही तो ये गूगल द्वारा इसे Keyword Stuffing मान लिया जाता है। और अच्छे से Ranking नहीं हो पायेगी।


#7. Backlink

अगर आप कोई भी पोस्ट लिखते है। उसमें बैकलिंक को देना चाहिए। backlink में आप इस पोस्ट से सम्बंधित अपने ब्लॉग के किसी और पोस्ट के लिंक को दे सकते है। जो  internal  बैकलिंक का बनना कहलाता है। 

इससे लिंक करने पर दूसरे पोस्ट को भी बैकलिंक मिलता हैं जिससे दूसरे पोस्ट की भी Rank होने की सम्भवना बढ़ जाती है। साथ ही अपना bounce rate भी कम हो जाता है। अर्थात यूजर आपके ब्लॉग के अन्य पोस्ट को भी पढ़ेंगे। जिससे आप की ब्लॉग की traffic बढ़ेंगी।

उदाहरण के तौर पर : इमेज को देखें।

ब्लॉगर में internal बैकलिंक बनाना।
Internal backlink बनाना।

आप अपने पोस्ट के अंदर कही भी पिछले Posts के यूआरएल दे सकते है। जिससे आंतरिक बैकलिंक्स बनेगा।



निष्कर्ष ( Conclusion ) :-

मैंने इस पोस्ट के जरिये बताया है कि ब्लॉगर के पोस्ट को SEO Friendly कैसे बनाते या लिखे। इसके मैंने सारे तरीके को पॉइंट टू पॉइंट इस पोस्ट में बताया है। जिसे आप अपने ब्लॉग के पोस्ट ज्यादा seo फ्रेंडली बना सकते है।

मैं इस पोस्ट के समय समय पर अपडेट करता रहता हूँ।

अंत में, आपको पोस्ट कैसे लगी कृपया Comment करके हमें बताये ! आपका एक comment मुझे ज्यादा से ज्यादा post लिखने के प्रेरित करेंगा। धन्यवाद 💐!



2 टिप्‍पणियां:

एक टिप्पणी भेजें

आप कैसे हों?