ब्लॉगर Post Editor की पुरी जानकरी हिंदी में पढ़े।

आशुतोष कुमार मार्च 29, 2018 0 टिप्पणी 3 मिनट पढ़ें।

आज की पोस्ट आपलोगों के लिए कुछ खास होने वाली हैं क्योकि आज हम blogger की editing tools की पुरी knowledge आपको provide करने वाला हूँ।और अगर आपको blogger editing tools की basic knowledge भी हैं तो आप एक अच्छे, आकर्षक और SEO optimize article/post लिख सकते है।
              तो, आइये जाने ब्लॉगर सम्पादकिय औजारो की पुरी जानकारी।

Post Title - इस क्षेत्र में आपको अपने पोस्ट से संबंधित शीर्षक लिखना होता है। शीर्षक को हमेशा छोटा ( लगभग 64 अक्षर तक ) और सार्थक होनी चाहिए। Post title में keywords को जायदा प्राथमिकता दे।

Post  Field - इसमें आप को पोस्ट
लिखना होता हैं। पोस्ट लिखने के समय मुख्य keywords को ध्यान में रखते हुए पहले paragraph के 164 अक्षरों के बीच में रखने की कोशिश करे।

Toolbar
Compose
HTML मे लिखे भाषा को पढ़ने योग्य भाषा में तब्दील करना।
HTML
लिखे टेस्ट को html format में बदलना।
Undu
गलतिया होने पर एक step पिछे जाना।
Redo
Undu प्रक्रिया के तिक बिपरीत है।


 Font style
इस विकलप मे आप भिन्न-2 प्रकार ले font पायेगे। इससे आप अपने पोस्ट के टेक्सट को stylish बना सकते है।

Font size
इस विकल्प के अंतर्गत आप font के आकर को छोटा- बड़ा कर सकते है।

Post heading
इन विकल्पों की मदद से आप किसी खाश प्रकार के पोस्ट के अंदर heading (h2), sub-heading(h3) और मिनोर- heading(h4)  लगा सकते है।


Bold
पोस्ट मे खास सब्दो को मोटा अक्षर में दिखा सकते हैं।

Italic
इस विकल्प से सब्दो को तेडे या तिरछे रुप में दिखा सकते है।

Underline
किसी भी शब्द या सब्दो के समूह को रेखाँकित रूप मे दिखा सकते हैं।

Strike
अक्षरो के बीच से lengthwise लकीर खीच सकते है। या इससे strike-thought लिखे जाते है।


Text
text अक्षर के रंग का परिवर्तन करना।

Text Background
अक्षरों के क्षेत्र को छायांकित रूप में दिखाना।


Link
अक्षरो के साथ लिंक डालना। जिसे hyperlink कहते है। इसका उपयोग पोस्ट में links डालने के काम, डौन्लोड button, Bookmarking इतियादी कार्यो में किया जाता हैं।

Inserting image
पोस्ट में चित्र को डालना। कभी भी बिना चित्र के पोस्ट न डाले। कम से कम एक picture का उपयोग करें। 

Inserting vidio
विडियोज़ को पोस्ट में डालना। वीडियो के डालने से पोस्ट की खोज मशीन में उँचा स्थान मिल सकता है।

Emoji, Smily
इससे आप पोस्ट में smily डाल सकते है।

Split post
पोस्ट को टूकरो मे बटना। ब्लॉगर के आधिकारिक तौर पर दिये गये Simple, Awosome, Travel जैसे tamplate, पोस्ट की पूरी feed दिखते हैं। इस प्रकार homepage पर जायदा पोस्ट दिखाने से ब्लॉग की loading speed कम हो जायेगा। इस समस्या से निजात पाने इस विकल्प का use कर सके है। इससे सारे पोस्ट में read more>> का विकल्प दिखेगा।



Alignment
टेक्सट के सथन को निर्धारण करना। अथत टेक्सट को दाये य बाये या बीच में दिखाये।

Odered list
किसी खाश प्रकार के सूची मे नंबर संख्या दिखाना।

Unorderd list
सूची को बिना नंबर सक्या के doted रूप में दिखाना।

boucketquoto
विचारो को एक अलग style में अर्थात inverted comma के बीच में दिखाना।

Format
इस विकल्प के उपयोग से आप अपने टेक्सट पर लागू किये गये style को एक क्लिक में हटा सकते है।


Spell checker
सब्दों के लिखाबट में गलती को चेक करना।

Language converter
आप अपने पोस्ट को इंग्लिश कीबोर्ड के मदद से भी हिन्दी में लिख सकते हैं। अर्थात phonex language में लेखन।


Ltr (left to right )
देवनकरीक हिन्दी भाषा और रोमन अँग्रेजी भाषा का लेखन एक दिशा में होती है । अर्थात Hindi और English दोनों ही भाषा बाये से दाये तर्भ लिखी जाती है।

Rtl (Right to left)
उर्दू भाषा जो फारशी लिपि से है। जो दाये से बाये की तर्भ लिखी जाती है।

Post Setting Option

Levels- इस की मदद से हम किन्ही खास 
प्रकार की पोस्ट के समुह को क्षेणीबद्ध ( Categorised ) कर सकते है। ये Seo के दृष्टि से महत्वपूण नहीं हैं किन्तु यह उपभोगता को अच्छे Nevigation प्रदान करते है।

Schedule - इस की मदद से हम पोस्ट को किसी भी निश्चित समय स्वतः ( atomatically ) प्रकाशन हेतु समय लगा सकते है।

Permalink - इस ऑप्शन से आप अपने पोस्ट के URL पता को जायदा SEO-Friendly बना सकते है। permalink में तीन से चार कीवर्ड (keywords) का उपयोग करे। 

Location - पोस्ट के सात Visitors को अपने post प्रकाशन के समय की स्थान को दिखा सकते है।

Search Description - इसका उपयोग करना अनिर्वाय, उन उपभोगता के लिए हैं जो अपने पोस्ट को जायदा SEO Friendly अथवा search engine में  अच्छा स्थान ( Rank ) दिलाना चाहते हों।

Options - इसके अंतर्गत पोस्ट ये निम्न कार्य होते है। 
  • पोस्ट में टिपण्णी (comments) का अनुमति या प्रतिबंधित होना।
  • HTML को अक्षरों के रूप में ही दिखाना या नहीं।
  • Line Breaks के लिए
    tag या enter का विकल्प का चुनाव।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आप कैसे हो?